covid-19 coronavirus effects 1st time olympics postponed due to pandemic 5 times cancelled before due to world war - Coronavirus: पहली बार महामारी के कारण टले ओलंपिक खेल, युद्ध के कारण 5 बार रद्द हो चुके हैं खेलों के महाकुंभ - Jansatta

Coronavirus: पहली बार महामारी के कारण टले ओलंपिक खेल, युद्ध के कारण 5 बार रद्द हो चुके हैं खेलों के महाकुंभ

द्वितीय विश्व युद्ध (1939 से 1945 तक) के कारण इन खेलों को दो बार स्थगित करना पड़ा। 1944 में लंदन में ओलंपिक होने थे, लेकिन वे रद्द किए गए, बाद में लंदन को 1948 में ओलंपिक की मेजबानी का मौका मिला।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: March 24, 2020 9:25 PM
इस साल 24 जुलाई से 9 अगस्त तक टोक्यो में ओलंपिक खेल होने थे। (फाइल फोटो)

ओलंपिक खेल पहली बार किसी महामारी के कारण रद्द किए गए हैं। इससे पहले 5 बार इन खेलों को रद्द करना पड़ा है, लेकिन तब इन्हीं युद्ध के कारण स्थगित करना पड़ा था। विश्व युद्ध छिड़ने के कारण 1916, 1940 और 1944 में ओलंपिक खेल नहीं हो पाए। 1916 में प्रथम विश्व युद्ध के कारण बर्लिन में होने वाले ओलंपिक रद्द किए गए थे।

द्वितीय विश्व युद्ध (1939 से 1945 तक) के कारण इन खेलों को दो बार स्थगित करना पड़ा। 1944 में लंदन में ओलंपिक होने थे, लेकिन वे रद्द किए गए, बाद में लंदन को 1948 में ओलंपिक की मेजबानी का मौका मिला। इसके बाद राजनीतिक बहिष्कार और आतंकवाद के कारण 1972 म्यूनिख और 1980 मॉस्को ओलंपिक रद्द करने पड़े थे।

टोक्यो ओलंपिक 2020 स्थगित किए जाने के बाद अतीत के गलियारों में जाकर उन खेलों पर एक नजर डालें, जिन पर जंग की गाज गिरी थी:

बर्लिन 1916 : स्टॉकहोम में चार जुलाई 1912 को छठे ओलंपिक खेलों की मेजबानी बर्लिन को सौंपी गई। जर्मन ओलंपिक समिति ने युद्धस्तर पर तैयारी की। जून में बर्लिन स्टेडियम में टेस्ट स्पर्धाएं भी आयोजित हुईं। दूसरे दिन ऑस्ट्रिया के आर्कड्यूक फ्रेंक फर्डिनेंड और उनकी पत्नी की हत्या कर दी गई। इसके बाद के घटनाक्रम प्रथम विश्व युद्ध का कारण बने। इस कारण बर्लिन ओलंपिक खेल नहीं हो पाए।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें:
कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा
जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए
इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं 
क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

टोक्यो 1940 : जूडो के आविष्कारक जापान के महान खिलाड़ी जिगोरो कानो की अगुआई में टोक्यो को 1940 में ओलंपिक की मेजबानी मिली। इतालवी निर्देशक बेनितो मुसोलिनी ने ऐन मौके पर दौड़ से नाम वापिस ले लिया। इस बीच जापान और चीन में जंग छिड़ गई और राजनयिक दबाव बन गया कि जापान खेलों की मेजबानी छोड़े। आखिरकार जापान ने दबाव के आगे घुटने टेके। हालांकि, 1964 में वह ओलंपिक की मेजबानी करने वाला पहला एशियाई देश बन गया।

लंदन 1944 : लंदन ने रोम, डेट्राइट, लुसाने और एथेंस को पछाड़कर मेजबानी हासिल की लेकिन तीन महीने बाद ही ब्रिटेन ने जर्मनी के खिलाफ जंग का ऐलान कर दिया। ये खेल हुए ही नहीं और इटली में शीतकालीन खेल भी रद्द हो गए। लंदन ने 1948 में खेलों की मेजबानी की, हालांकि, उसमें जापान और जर्मनी ने भाग नहीं लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

div , .strick-ads-newm > div {margin: 0 auto; } .extra-bbc-class{bottom: 103px;} } @media (max-width:480px){ .trending-list li{width:100%; padding-left:15px;} } .custom-share>li>a i.linke{background-position:2px -142px; width:23px; height:24px;} .custom-share>li>a i.linke {background-position:3px -180px; width: 23px; height: 24px;} .custom-share>li.linke a{background:#0172b1;}
0 ) { try { var justnowcookieval = getjustnowcookie( 'jsjustnowclick' ); if ( 1363065 != justnowcookieval || null === justnowcookieval || 'undefined' === justnowcookieval ) { jQuery('.breaking-scroll-j').css('display', 'block'); } else { jQuery('.breaking-scroll-j').css('display', 'none'); } } catch (err) { } } } setTimeout( function() { show_justnow_wid() }, 2000 ); if( getCookie("jsjustnowclick") != '' ){ if( getCookie("jsjustnowclick") != 1363065 ){ document.cookie = 'jsjustnowclick' + "=" + getCookie("jsjustnowclick") + "; expires=Thu, 01 Jan 1970 00:00:00 UTC; path=/;"; } } if( getCookie("jsjustnowclick") == '' ){ jQuery( '#append_breaking_box' ).show(); } else { jQuery( '#append_breaking_box' ).hide(); } // }); }); jQuery(document).scroll(function() { var y = jQuery( this ).scrollTop(); if (y > 400) { jQuery( '#append_breaking_box' ).addClass( 'animate-break' ); } else { jQuery( '#append_breaking_box' ).removeClass( 'animate-break' ); } });
*/ */ */ */