Coronavirus Fear: WHO प्रमुख बोले- "लॉकडाउन से खत्म नहीं होगा कोरोनावायरस; पीड़ितों को ढूंढें, टेस्ट करें और उनका इलाज करें" - Jansatta

WHO प्रमुख बोले- “लॉकडाउन से खत्म नहीं होगा कोरोनावायरस; पीड़ितों को ढूंढें, टेस्ट करें और उनका इलाज करें”

UN की पर्यावरण से जुड़ी एजेंसी की प्रमुख ने कहा- प्रकृति हमें संदेश भेज रही। अगर हम उसकी परवाह नहीं करेंगे, तो अपने आपको नहीं बचा सकते।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र जेनेवा | Updated: March 26, 2020 2:37 PM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के निदेशक टेडरोस अदहनोम गेब्रेहुसस ने बुधवार को कहा कि दुनियाभर के देश जो लॉकडाउन का तरीका अपना रहे हैं, वो वायरस फैलने की गति तो धीमी कर सकते हैं। लेकिन इससे वायरस नहीं खत्म होगा। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन से महामारी खत्म नहीं होगी। हम सभी देशों से आग्रह करते हैं कि वे लॉकडाउन के समय का इस्तेमाल कोरोनावायरस को खत्म करने के लिए करें। आपने अपने लिए दूसरा मौका पैदा कर लिया है।

टेडरोस ने कहा, “लोगों से घर में रहने के लिए कहना और पूरी जनसंख्या का मूवमेंट बंद कर देने से कुछ समय मिल जाएगा और स्वास्थ्य सेवाओं पर दबाव कम होगा, लेकिन इस तरह से कोरोनावायरस को खत्म नहीं किया जा सकता। इस वक्त देशों को अपने लोगों की अलग-थलग रखने, उनका टेस्ट करने और खोज के बाद उनके इलाज की कोशिशें आक्रामक तरीके से करनी चाहिए। यह न सिर्फ सर्वश्रेष्ठ बल्कि कड़े सामाजिक और आर्थिक प्रतिबंधों के बीच कोरोना से लड़ाई का सबसे बेहतर तरीका है।”

इसी बीच संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की पर्यावरण से जुड़ी संस्था की प्रमुख इंगर एंडरसन ने कहा था कि प्रकृति कोरोनावायरस महामारी और जलवायु संकट के जरिए हमें संदेश दे रही है। उन्होंने कहा, “हमने लगातार जंगल के इलाकों को खत्म किया और उन जानवरों-पौधों से करीबी बना ली, जो बीमारी साथ रखते हैं और इंसानों को बीमार कर सकते हैं।” उन्होंने आगे कहा कि अगर हम प्रकृति की रक्षा नहीं कर सकते, तो हम अपनी रक्षा नहीं कर सकते।

दुनिया में कोरोनावायरस के मामले 4.5 लाख के पार: दुनियाभर में अब तक कोरोनावायरस से प्रभावितों की संख्या 4.5 लाख पार कर गई है। वहीं 195 देशों में इससे 21 हजार से ज्यादा की मौत हुई है। इस बीच 1 लाख से ज्यादा मरीज ठीक भी हुए हैं। हालांकि, कोरोनावायरस से लड़ाई के लिए कई देशों ने लॉकडाउन का भी ऐलान किया है। दुनिया की करीब 3 अरब आबादी इस वक्त अपने घरों में बंद है। इसमें सबसे ज्यादा 1.3 अरब लोग भारत के हैं।

भारत में अब तक कोरोनावायरस संक्रमितों के मामले 600 के पार जा चुके हैं, जबकि 13 लोगों की मौत हुई है। दूसरी तरफ इटली और स्पेन में मृतकों की संख्या वायरस के पहले केस वाले देश चीन से भी ज्यादा हो गई है। जहां इटली में अब तक 7500 लोग मारे जा चुके हैं। स्पेन में भी 3600 से ज्यादा की मौत हुई है। वहीं अमेरिका में भी मृतकों का आंकड़ा 1000 पार हो चुका है।

0 ) { try { var justnowcookieval = getjustnowcookie( 'jsjustnowclick' ); if ( 1371053 != justnowcookieval || null === justnowcookieval || 'undefined' === justnowcookieval ) { jQuery('.breaking-scroll-j').css('display', 'block'); } else { jQuery('.breaking-scroll-j').css('display', 'none'); } } catch (err) { } } } setTimeout( function() { show_justnow_wid() }, 2000 ); if( getCookie("jsjustnowclick") != '' ){ if( getCookie("jsjustnowclick") != 1371053 ){ document.cookie = 'jsjustnowclick' + "=" + getCookie("jsjustnowclick") + "; expires=Thu, 01 Jan 1970 00:00:00 UTC; path=/;"; } } if( getCookie("jsjustnowclick") == '' ){ jQuery( '#append_breaking_box' ).show(); } else { jQuery( '#append_breaking_box' ).hide(); } // }); }); jQuery(document).scroll(function() { var y = jQuery( this ).scrollTop(); if (y > 400) { jQuery( '#append_breaking_box' ).addClass( 'animate-break' ); } else { jQuery( '#append_breaking_box' ).removeClass( 'animate-break' ); } });
*/ */ */ */